Intezaar Shayari

दोस्तों आज हम आपके लिए एक दम Unique Topic पर आर्टिकल (Intezaar Shayari) ले आए हैं। दोस्तों Intezaar का मतलब सिर्फ वही व्यक्ति समझ सकता है जिसने सच्चे दिल से किसी को प्यार किया हो और उसे पाने की उम्मीद में बहुत इंतजार किया है, तो चलिए आपके इस इंतजार को Intezaar Shayari in Hindi के माध्यम से और हसीन बनाते हैं।

यह जो प्यार होता है ना बहुत अनमोल होता है किसी को मिलता है तो किसी को ताउम्र इंतजार करवाता है। लेकिन जो इंसान सच्चे दिल से प्यार करते हैं वह जीवन के आखिरी सांस तक प्यार का इंतजार करते है। उसकी हर सुबह हर शाम बस इसी आस में कटती है कि उसके प्यार का कोई पैगाम आ जाए।

किसी किसी के प्यार में ऐसी हालत हो जाती है की उनका प्यार उनको हासिल नहीं हो पाता लेकिन फिर भी दिल के किसी कोने में एक उम्मीद सी जगी रहती है उनको अपने प्यार का इंतजार रहता है। आपकी इसी अकेलेपन में Tera Intezaar Shayari आपका साथी बनेगा।

Intezaar Shayari 2 Lines | Intezaar Shayari Hindi

हमने अक्सर तुम्हारी राहों में रुक कर अपना ही इंतज़ार किया।

Intezaar Shayari

जहाँ प्यार हो वहां इंतज़ार की आदत पड़ जाती है।

Intezaar Shayari

आधी से ज्यादा ग़म काट चुका हूँ, अब तो आ जाओ ये रात बड़ी है।

Intezaar Shayari

इंतज़ार की आरज़ू अब खो गयी है, खामोशियों की अब आदत हो गयी है।

Intezaar Shayari

यूँ पलके बिछा कर तेरा इंतज़ार करते है, यह वो गुनाह है जो हम बार बार करते है।

Intezaar Shayari

एक रात वो गया था जहाँ बात रोक के, अब तक रुका हुआ हूँ वहीं रात रोक के।

Intezaar Shayari

इंतजार वही करता है जिसकी मोहब्बत सच्ची होती है।

Intezaar Shayari

वो तारों की तरह रात भर चमकते रहे, हम चाँद से तन्हा सफ़र करते रहे, वो तो बीते वक़्त थे उन्हें आना न था, हम यूँ ही सारी रात करवट बदलते रहे।

झुकी हुई पलकों से उनका दीदार किया, सब कुछ भुला के उनका इंतजार किया वो जान ही न पाए जज्बात मेरे, मैंने सबसे ज्यादा जिन्हें प्यार किया।

टूट गया है दिल पर अरमान वही है, दूर रहते है फिर भी प्यार वही है, जानते है हम की तुम मिल नही सकते, मगर इन आँखों मे इंतज़ार वही है।

उसी तरह से हर एक ज़ख्म खुशनुमा देखे, वो आये तो मुझे अब भी हरा-भरा देखे, गुजर गए हैं बहुत दिन रफाकत-ए-शब में, एक उम्र हो गई चेहरा वो चाँद-सा देखे।

ए पलक तु बन्‍द हो जा, ख्‍बाबों में उसकी सूरत तो नजर आयेगी, इन्‍तजार तो सुबह दुबारा शुरू होगी, कम से कम रात तो खुशी से कट जायेगी।

बड़ी मुश्किल में हूँ कैसे इज़हार करू, वो तो खुशबू है कैसे गिरफ्तार करू, उसकी मोहब्बत में मेरा हक नही लेकिन, दिल करता है की आखरी साँस तक उसका इन्तजार करू।

Intezaar Shayari | Intezaar True Love Shayari

बहुत से लोग ऐसे होते हैं जिनको एक नजर में ही प्यार हो जाता और वह अपने प्रेमी या प्रेमिका की एक झलक पाने का महीनों तक इंतजार करते हैं। क्योंकि यह प्यार चीज ही ऐसी है इसमें पड़ने के बाद जिंदगी हसीन और रंगीन लगने लगती है। बस हर पल अपने प्यार से मिलने का इंतजार लगा रहता है। कहते हैं ना बस मिलने का नाम प्यार नहीं होता, अरे प्यार का असली मजा तो इंतजार में ही होता है और यह Intezaar True Love Shayari आपकी तन्हाई को खुशनुमा बना देगा।

वो रुख्सत हुई तो आँख मिलाकर नहीं गई, वो क्यों गई यह बताकर नहीं गई, लगता है वापिस अभी लौट आएगी, वो जाते हुए चिराग़ बुझाकर नहीं गई।

होंठ कह नहीं सकते जो फ़साना दिल का, शायद नज़रों से वो बात हो जाए, इस उम्मीद से करते हैं इंतज़ार रात का, कि शायद सपनों में ही मुलाक़ात हो जाए।

जैसी है तेरी ख्वाइश वैसे प्यार करेंगे, हर धड़कन पर अपनी वफ़ा का इक़रार करेंगे, जहाँ भी जाओगे हर कदम हममे ही पाओगे, इश्क़ के हर मोड़ पर तेरा इंतज़ार करेंगे।

नज़रों को तेरी मोहब्बत से इंकार नहीं है, अब मुझे किसी का इंतजार नहीं है, खामोश अगर हूँ ये अंदाज है मेरा, मगर तुम ये न समझना कि मुझे प्यार नहीं है।

क्या करूँगा उसका इंतजार करके, जब चली गयी वो मुझे बर्बाद करके, सोचा था अपना भी यहां एक जहा होगा, मगर मिली सिर्फ तन्हाई उससे प्यार करके।

जान से भी ज्यादा उन्हें प्यार किया करते थे, याद उन्हे दिन रात किया करते थे, अब उन राहों से गुजरा नही जाता, जहाँ बैठ कर उनका इंतज़ार किया करते थे।

तुम मेरा वो इंतज़ार हो जो कभी खत्म ही नहीं होता।

Intezaar Shayari in Hindi

मिलने का मज़ा अक्सर इंतज़ार के बाद ही आता है।

Intezaar Shayari in Hindi

तुझे पाने की उम्मीद नहीं है फिर भी इंतज़ार है, चाहत अधूरी ही सही पर तेरे लिए बेशुमार है।

Intezaar Shayari in Hindi

कितने अनमोल होते है अपनों के रिश्तें, कोई याद ना करे तो भी इंतज़ार रहेता है।

Intezaar Shayari in Hindi

खुद हैरान हूँ मैं अपने सब्र का पैमाना देख कर, तूने याद भी ना किया, और मैंने इंतज़ार नहीं छोड़ा।

Intezaar Shayari in Hindi

ये इंतज़ार न ठहरा कोई बला ठहरी, किसी की जान गई आपकी अदा ठहरी।

Intezaar Shayari in Hindi

उसके ना की उम्मीद तो नहीं, फिर भी उसका इंतज़ार किये जा रहे है।

Intezaar Shayari in Hindi

उनकी अपनी मरजी हो, तो वो हमसे बात करते है, और हमारा पागलपन देखो क़ि सारा दिन उनकी मरजी का इंतजार करते है।

आँखों में बसी है प्यारी सूरत तेरी, और दिल में बसा है तेरा प्यार, चाहे तू कबूल करे या ना करे, हमें रहेगा तेरा इंतज़ार।

कोई शाम आती है आपकी याद लेकर, कोई शाम जाती है आपकी याद लेकर, हमें तो इंतज़ार है उस शाम का, जो आये कभी आपको अपने साथ लेकर।

मोहब्बत का इम्तिहान आसान नहीं, प्यार सिर्फ पाने का नाम नहीं, मुद्दतें बीत जाती है किसी के इंतज़ार में, यह सिर्फ पल दो पल का काम नहीं।

जीने की ख्वाइश में हर रोज़ मरते हैं, वो आये न आये हम इंतज़ार करते हैं, जूठा ही सही मेरे यार का वादा, हम सच मानकर ऐतबार करते हैं।

काश इंतज़ार इश्क़ का पैमाना होता, तब उन्हें बताते इश्क़ कितना करते हैं हम।

Intezaar Shayari in Hindi | Tera Intezaar Shayari

प्यार वह खामोशी है जो चुप रहकर भी सब कुछ कह जाती है प्यार में लोग बेकरार रहते हुए भी इंतजार किए जाते हैं। काश लोग यह समझ जाएँ की चुप रहकर भी प्यार किया जाता है और खामोश रहकर भी इकरार किया जाता है। ऐसा अक्सर एक तरफा प्यार में होता है इसीलिए तो कहते हैं कि हमेशा उस प्यार को अपनाओ जो आपसे प्यार करता हो ना कि जिससे आप प्यार करते हो। जो आपको प्यार करता है वह कभी आपको छोड़कर नहीं जाएगा और ना ही पूरी जिंदगी आप से इंतजार करवाया और अगर प्यार सच्चा हो तो आपको मिलकर ही रहेगा।

कितना इंतज़ार और करे हमबि रह में और कितना जले हम, तुम तो बस छोड़ कर चले गए, अब कैसे कुछ तुमसे कहे हम।

उनका भी कभी हम दीदार करते थे, उनसे भी कभी हम प्यार करते थे, क्या करे जो उनको हमारी जरुरत न थी पर फिर भी हम उनका इंतज़ार करते थे।

तेरे इंतज़ार मैं लफ्ज़ ख़तम हो गए लिखने के लिए,मेरे इश्क़ पे खामोशी सी छायी है तेरे इंतज़ार मैं।

उल्फ़त के मारों से ना पूछो आलम इंतज़ार का, पतझड़ सी है ज़िन्दगी और ख्याल है बहार का।

कब उनकी पलकों से इज़हार होगा, दिल के किसी कोने में हमारे लिए प्यार होगा, गुज़र रही है रात उनकी याद में, कभी तो उनको भी हमारा इंतज़ार होगा।

हालात कह रहे हैं मुलाकात नहीं मुमकिन, उम्मीद कह रही है थोड़ा इंतज़ार कर।

पलकों पर रूका है समन्दर खुमार का, कितना अजब नशा है तेरे इंतजार का।

Intezaar Shayari 2 Lines

अब तेरी मोहब्बत पर मेरा हक तो नहीं सनम, फिर भी आखिरी साँस तक तेरा इंतजार करेंगे।

Intezaar Shayari 2 Lines

माथे को चूम लूँ मैं, उनकी जुल्फ़े बिखर जाये, इन लम्हों के इंतजार में, कहीं ज़िन्दगी न गुज़र जाये।

Intezaar Shayari 2 Lines

कल भी तुम्हारा इंतज़ार था, आज भी तुम्हारा इंतज़ार है, और हमेशा तुम्हारा ही इंतज़ार रहेगा।

Intezaar Shayari 2 Lines

खूबसूरत का पता नहीं, लेकिन मज़ा बहुत आता है, प्यार में भी और इंतज़ार में भी।

Intezaar Shayari 2 Lines

रोज तेरा इंतजार होता है, रोज ये दिल बेक़रार होता, काश के तुम समझ सकते के चुप रहने वालों को भी प्यार होता है।

Intezaar Shayari 2 Lines

आहिस्ता आहिस्ता धड़कन बढ़ने लगती है, जब इंतज़ार की घड़ी कम होने लगती है।

Intezaar Shayari 2 Lines

दो तरह के आशिक होते है, एक हासिल करने वाले और दूसरे इंतज़ार करने वाले।

हर मुलाक़ात को याद हम करते हैं, कभी चाहत कभी जुदाई की आह भरते हैं, यूँ तो रोज तुमसे सपनों में बात करते हैं, अगली मुलाक़ात का फिर से इंतज़ार करते हैं।

तेरी यादों की महक इन हवाओं में है, प्यार ही प्यार बिखरा इन फिजाओं में है, ऐसा न हो के दूरियां दिल का दर्द बन जायें, आजा के तेरा इंतज़ार इन निगाहों में है।

अच्छे वक़्त का इंतजार हम नही करते, हम तो बुरे वक़्त को भी अच्छे मे बदलने की औक़ात रखते है।

एक अजनबी से मुझे इतना प्यार क्यूँ है, इन्कार करने पर चाहत का इकरार क्यूँ है, उसे पाना नहीं मेरी तकदीर में शायद, फिर भी हर मोड़ पर उसका इंतजार क्यूँ है।

एक लम्हे के लिए मेरी नजरों के सामने आजा, एक मुद्दत से मैंने खुद को आईने में नहीं देखा।

Intezaar Shayari 2 Lines | Intezaar Shayari

बहुत लोग तो ऐसे होते हैं जो अपने प्यार की छोटी-छोटी यादों के सहारे ही पूरी जिंदगी काट देते है और उम्र भर उस प्यार का इंतजार करते हैं जो शायद उन्हें कभी मिल नहीं सकता।

सूखे पत्तों से प्यार कर लेंगे, हम तो तुम पर ऐतबार कर लेंगे, तुम ये तो कहो तुम हमारे हो सनम, हम ज़िन्दगी भर ऐतबार कर लेंगे।

फिर आज कोई गजल तेरे नाम न हो जाये, कहीं लिखते लिखते शाम न हो जाये, कर रहे हैं इंतज़ार तेरी मोहब्बत का इसी इंतज़ार में तमाम न हो जाये।

भले ही राह चलतों का दामन थाम ले, मगर मेरे प्यार को भी तू पहचान ले, कितना इंतज़ार किया है तेरे इश्क़ में, ज़रा यह दिल की बेताबी तू भी जान ले।

मुझे हर पल तेरा इंतज़ार रहता है, हर लम्हा मुझे तेरा एहसास रहता है, तुझ बिन धडकनें रुक सी जाती हैं, कि तू दिल में धड़कन बनके रहता है।

मुझे इंतजार की घड़ियों में बांध कर, वो ना जाने कहा चली गयी, हम तो उसका इंतज़ार सदियों तक करते रह गए।

किन लफ्जों में लिखूँ मैं अपने इंतज़ार को तुम्हें, बेजुबां है इश्क़ मेरा ढूंढ़ता है खामोशी से तुझे।

तुम्हारी यादों पर इख़्तियार हो नही सकता, लौट आओ के अब इंतज़ार हो नही सकता।

Intezaar Shayari

एक तरफ है खामोशी, एक तरफ इंतज़ार है, फिर भी ये मोहब्बत अपने आप में ही कमाल है।

Intezaar Shayari

फरियाद कर रही है यह तरसी हुई निगाह, देखे हुए किसी को ज़माना गुजर गया।

Intezaar Shayari

कभी कभी एक दिन का इंतज़ार सालों जैसा लगता है।

Intezaar Shayari

तेरे हिज्र के गम में हम यूँ ज़ार ज़ार होते जा रहे हैं, इंतज़ार करते करते ख़ुद इंतज़ार होते जा रहे हैं।

Intezaar Shayari

किसी ने मोहब्बत लिखी तो किसी ने करार लिखा हमने अपने हर एक शेर में बस तेरा इंतजार लिखा।

Intezaar Shayari

शब-ए-इंतिज़ार की कश्मकश में न पूछ कैसे सहर हुई, कभी इक चराग़ जला दिया कभी इक चराग़ बुझा दिया।

Intezaar Shayari

उसके इंतजार के मारे है हम, बस उसकी यादों के सहारे है हम, दुनियाँ जीत के कहना क्या है अब, जिसे दुनियाँ से जीतना था आज उसी से हारे है हम।

चले भी आओ तसावर में मेहरबान बनकर, आज इंतज़ार तेरा दिल को हद से ज्यादा है।

क्यों किसी से इतना प्यार हो जाता है, एक पल का इंतज़ार भी दुश्वार हो जाता है, लगने लगते हैं अपने भी पराये, और एक अजनबी पर ऐतबार हो जाता है..

उठ-उठ के किसी का इंतज़ार करके देखना, कभी तुम भी किसी से प्यार करके देखना।

उम्मीद भी बड़े कमाल की चीज़ होती है, सब्र गिरवी रख इंतज़ार थमा देती है।

दिल मे इंतज़ार की लकीर छोड़ जाएंगे, आंखों में यादों की नमी छोड़ जाएंगे, ढूंढते फिरोगे हमे एक दिन, ज़िन्दगी में एक यार की कमी छोड़ जाएंगे।

Intezaar Shayari in Hindi | Intezaar Shayari 2 Lines

तड़प के देखो किसी की चाहत में तो पता चलेगा इंतजार क्या होता है। इंतजार सब्र का वह पैमाना है जिसमें आदमी खुद को भूल जाता है और खामोशी ही उसकी साथी बन जाती है। इंतजार बेजुबान होता है उसको लबों से बयां नहीं किया जा सकता इंतजार की कीमत वही बता सकता है जो सच्चे दिल से किसी का इंतजार किया हो।

हमने ये शाम चिरागों से सजा रखी है, आपके इंतजार में पलके बिछा रखी हैं, हवा टकरा रही है शमा से बार-बार, और हमने शर्त इन हवाओं से लगा रखी है।

इंतज़ार तो बस उस दिन का है जिस दिन, तुम्हारे नाम के पीछे हमारा नाम लगेगा।

जिस के इक़रार का इंतज़ार था मुझे, जाने क्यों उस से इतना प्यार था मुझे, ऐ ख़ुदा आ ही गया वो हसीं पल, जब उसने कहा तुमसे बहुत प्यार है मुझे।

तुम्हारी एक झलक देखने के लिए, हम चाँद से बातें सारी रात करते रहे, आप हमसे मिलने नहीं आई, हम आपका इंतज़ार सारी रात करते रहे।

उनकी आवाज़ सुनने को बेकरार रहते हैं, शायद इसी को दुनिया में प्यार कहते हैं, काटने से भी जो ना कटे वक्त, उसी को मोहब्बत में इंतज़ार कहते हैं।

किसी रोज़ होगी रोशन मेरी भी ज़िंदगी, इंतज़ार सुबह का नहीं तेरे लौट आने का है।

इंतज़ार उनके आने का खत्म ना हुआ, हम हर एक आहत में उनको ही ढूंढते है।

इंतज़ार के इन लम्हों में, ज़माना ना जीत जाए, इंतज़ार करते-करते कहीं, ज़िन्दगी ना बीत जाए।

लुत्फ़ जो उसके इंतज़ार में है वो कहाँ मौसम-ए-बहार में है।

Intezaar Shayari

दिन भर भटकते रहते हैं अरमान तुझसे मिलने के, न ये दिल ठहरता है न तेरा इंतज़ार रुकता है।

Intezaar Shayari

कुछ रोज ये भी रंग रहा तेरे इंतजार का, आँख उठ गयी जिधर बस उधर देखते रहे।

Intezaar Shayari

अगर आपको सबकी नज़रो में अच्छा बनना है, तो बस अपने मरने तक का इंतज़ार कर लीजिए।

Intezaar Shayari

वो न आएगा हमें मालूम था इस शाम भी, इंतज़ार उस का मगर कुछ सोच कर करते रहे।

Intezaar Shayari

हर आहट पर नज़र रखने से क्या होगा, उन्हें आना होगा तो आ ही जायेंगे।

Intezaar Shayari

हर इंतज़ार का अहसास बहुत ही खूबसूरत होता है।

Intezaar Shayari

बस यूँ ही उम्मीद दिलाते हैं ज़माने वाले, लौट के कब आते हैं छोड़ कर जाने वाले।

तड़प कर देखो किसी की चाहत में, पता चलेगा इंतज़ार क्या होता है, यूँ ही मिल जाता बिना कोई तड़पे तो, कैसे पता चलता कि प्यार क्या होता है।

किस्मत ने तुमसे दूर कर दिया, अकेलेपन ने दिल को मजबूर कर दिया, हम भी जिंदगी से मूह मोड़ लेते मगर, तुम्हारे इंतज़ार ने जीने पर मजबूर कर दिया।

ज़ख़्म इतना गहरा है कि इज़हार क्या करें, हम खुद निसाना बन गए वार क्या करे, सो गए हम मगर खुली रही आंखे, इससे ज्यादा हम उनका इंतजार क्या करे।

हाथ कि लकीरों पर ऐतबार कर लेना, भरोसा हो तो किसी से प्यार कर लेना, खोना पाना तो नसीबों का खेल है, ख़ुशी मिलेगी बस थोड़ा इंतज़ार कर लेना।

वो तारों की तरह रात भर चमकते रहे, हम चाँद से तन्हा सफ़र करते रहे, वो तो बीते वक़्त थे उन्हें आना न था, हम यूँ ही सारी रात करवट बदलते रहे।

जिसके एक मैसेज से मेरे चेहरे पर स्माइल आया करती थी, आज रोते रोते पूरा दिन गुज़र गया इंतज़ार में।

तुझे देखना चाहती हूँ हर पल, शायद तुझसे बहुत प्यार करती हूँ, कल तक तो तुझे जानती भी न थी, आज तेरा इंतज़ार करती हूँ।

जाम टूटने का बहाना ना किया कर, हम तो तेरी आँखों से पी लेंगे, तू मत आ लेकिन आने का वादा तो कर, हम तेरे इंतज़ार में ही जी लेंगे।

मेरे दिल की उम्मीदों का हौसला देखिये, इंतज़ार उनका है एहसास जिनको नहीं।

मजा तो हमने इंतजार में देखा है, चाहत का असर प्यार में देखा है, लोग ढूंढ़ते हैं जिसे मंदिर मस्जिद में, उस खुदा को मैने आपमें देखा है।

Final Thought About Intezaar Shayari

दोस्तों बस आप सबसे इतना ही कहना है कि जिंदगी बहुत छोटी है। अगर आपसे सच में कोई सच्चा प्यार करता है तो चाहे दुनिया इधर की उधर हो जाए वह आपको जरूर मिलेगा। लेकिन किसी के झूठे प्यार के सहारे आप अपने जीवन को खराब ना करें। उसका इंतजार मत करें जो आपके प्यार के काबिल ही ना हो। अगर आप सही में किसी से सच्चा प्यार करते हैं तो वह आपका होकर रहेगा।

यह जिंदगी हसीन है तुम बस प्यार और प्यार करो हर रात के बाद नहीं सुबह का इंतजार करो वह वक्त भी आएगा जिस को आपका इंतजार है। बस खुद पर भरोसा और अपने रब का इंतजार करो।

दोस्तो, आशा करते है कि हमारे द्वारा दिये गए Intezaar Shayari आप सभी को खूब पसंद आये होंगे। यहाँ पर दिए गए सभी Tera Intezaar Shayari हम ख़ासतौर पर आपके लिए चुन कर लाये है।

आपलोगों को हमारा ये Intezaar Shayari in Hindi कैसा लगा जरुर Comment कर के हमें बताइयेगा और कृपया आप अपने FacebookWhatsApp और Other Social Media Platforms पर शेयर करना ना भूले।

इन्हे भी पढ़ें:-

Previous article[50+ UNIQUE] Birthday Wishes In Hindi – जन्मदिन की शुभकामनाएं
Next article[90+ Latest] Bharosa Shayari – भरोसा शायरी | Vishwas Shayari

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here