Ishq-Shayari

Ishq एक बेहद ही खूबसूरत एहसास है जो दो लोग के दिलों की गहराई से जुड़ा होता है। इसमें दो लोगों के दिलों की धड़कन एक हो जाती हैं। यह एक ऐसा एहसास है जिसमें दो लोगों की भावनाएं और जज्बात एक हो जाते हैं। इश्क तो वह आसमान है जिसे कभी दबाया नहीं जा सकता और यह वह जमीन है जिसे कभी गिराया नहीं जा सकता। इश्क में पड़ने वाले बस एक दूसरे के बारे में ही सोचते हैं। यह एक ऐसा खुशनुमा एहसास है जिसमें व्यक्ति दर्द में भी मुस्कुराता है। इसीलिए तो कहते हैं कि इश्क की आग को कभी बुझाया नहीं जा सकता। दोस्तों आज हम भी बेहद खूबसूरत Ishq Shayari लायें है जिसे पढ़कर शायद आपको भी किसी से इश्क हो जाए।

इश्क में पड़ने वाले सब कुछ भूल जाते हैं, यह ऐसी खूबसूरत जिद है जिसे रोका नहीं जा सकता और वक्त के साथ बढ़ते ही जाता है। इश्क वह सुकून है जिसमें कोई रुसवाई नहीं होती, ये तो वो औषधि है जो बड़े से बड़े घाव को भी भर देती है

Ishq Shayari Hindi | Ishq Mohabbat Shayari | इश्क शायरी

“इश्क़ चख लिया था इत्तेफाक से, जुबां पर आज भी दर्द के छाले है।”

Ishq-Shayari

“इश्क में जिसने भी बुरा हाल बना रखा है, वही कहता है अजी इश्क में क्या रखा है।”

ishq-shayari

“इश्क़ पर ज़ोर नहीं है ये वो आतिश ग़ालिब कि लगाए न लगे और बुझाए न बने।”

ishq-shayari

“इसमें नुक्सान और फायदा कैसा, ये इश्क़ है कारोबार नहीं।”

ishq-shayari

“क्या कहू तुमसे कि क्या है इश्क़, जान का रोग और बला है इश्क़।”

 ishq-shayari-in-hindi

“उसके इश्क में मुकाम की चाह कुछ इस कदर है, कि उसकी बेवफाई में भी नादानी नज़र आती हैं।”

 ishq-shayari-in-hindi

“वो कहता है की बता तेरा दर्द कैसे समझू मैंने कहा की इश्क़ कर और कर के हार जा।”

 ishq-shayari-in-hindi

भटक जाते हैं लोग अक्सर इश्क़ की गलियों में, इस सफर का कोई इक नक्शा तो होना चाहिए।

चाँद मेरी ज़िंदगी में तब लग जाएँगे, जब मेरे एहसासों के साथ-साथ उनके ज़ज़्बात भी जग जाएंगे।

गलत सुना था कि, इश्क़ आँखों से होता हैं, दिल तो वो भी ले जाते है,जो पलके तक नही उठाते हैं।

हमने तो सिर्फ हाथ फैलाकर इश्क मांगा था, उसने तो हाथ चूमकर मेरी जान ही ले ली।

खुशबू से है वो जब आसपास भी नहीं होते, फिर भी महसूस होते है।

Ishq Shayari in Hindi | Ishq Shayari Urdu

इश्क एक प्राकृतिक है इसे जोर जबरदस्ती नहीं किया जाता। इसका रास्ता आँखों से होकर दिल तक जाता है। अरे इश्क तो वह मंदिर है जिसे रोज पूजा जाना चाहिए। इश्क मान, सम्मान, इज्जत सब कुछ है जिसे कभी ठुकराया नहीं जा सकता। दोस्तों इश्क की व्याख्या शब्दों के द्वारा नहीं की जा सकती किंतु फिर भी हम यह Ishq Shayari in Hindi द्वारा हम आपको थोड़ा बहुत समझाने की कोशिश कर सकते हैं कि इश्क क्या है।

झुका ली उन्होंने नज़रे जब मेरा नाम आया, इश्क़ मेरा नाकाम ही सही पर कही तो काम आया।

महफिलों में भी वो और तन्हाइयों में भी वो रहा करती है, क्या इश्क़ की हर घड़ी में ऐसे ही मोहब्बत रहा करती है।

तुम हकीकत-ऐ-इश्क़ हो या फरेब मेरी आँखों का, ना दिल से निकलते हो ना मेरी ज़िंदगी में आते हो।

दिवाना हर शख़्स को बना देता है इश्क़, सैर जन्नत की करा देता है इश्क़, मरीज हो अगर दिल के तो कर लो इश्क़, क्योंकि धड़कना दिलों को सिखा देता है इश्क़।

“इश्क़ ने जिस दिल पे कब्ज़ा कर लिया, फिर कहां उसमे ख़ुशी-ओ-गम रहे।”

ishq-shayari-urdu

“इश्क़ का रोग उन के बस का नहीं दूर से वो सलाम करते हैं।”

ishq-shayari-urdu

“इश्क़ लिखने को इश्क़ होना बहुत जरूरी है, जहर का स्वाद बिना पिए कोई कैसे बताएगा।”

ishq-shayari-hindi

“इश्क़ का भी अलग ही हिसाब है, पलभर में हो जाता है उम्रभर के लिए।”

ishq-shayari-hindi

“पता नहीं इश्क़ है या कुछ और, पर तेरी परवाह करना अच्छा लगता है मुझे।”

ishq-mohabbat-shayari

“रब ना करें इश्क की कमी किसी को सताए, प्यार करो उसी से जो तुम्हें दिल की हर बात बताए।”

ishq-mohabbat-shayari

“देखते हैं अब क्या मुकाम आता है साहब, सूखे पत्ते को इश्क हुआ है बहती हवा से।”

ishq-mohabbat-shayari

आज कुछ लिखने की फ़िराक में हूँ, आज सुबह ही मुझे इश्क़ हुआ है।

राख से भी आएगी खुशबू मोहब्बत की, मेरे खत तुम सरेआम जलाया ना करो।

इश्क की बहुत सारी उधारियां है तुम पर, चुकाने की बात करो तो कुछ किश्तें तय कर लें।

मोहब्बत‬ नही थी तो एक बार समझाया‬ तो होता, बेचारा‬ दिल तुम्हारी ‪ख़ामोशी‬ को ‪इश्क़‬ समझ बैठा।

Ishq Mohabbat Shayari | Ishq Shayari

Ishq वह एहसास है जिसमे अपने पार्टनर को खुश देख कर दूसरे का दिल खुश हो जाए, एक को खाना खाते देख दूसरे की भूख मिट जाए। जब किसी के साथ होने से समय का पता ना चले और कब सुबह से शाम हो जाए। एक की खुशी के लिए दूसरे को दर्द भी बर्दाश्त करना पड़े तो वह बिना कुछ कहे चुपचाप उस दर्द को बर्दाश्त करें। जिसमें त्याग और समर्पण की भावना हो तो समझ लेना कि बस यही इश्क है।

गजल-ए-उल्फत पढ़ लिया करो, एक खुराक सुबह एक खुराक शाम, ये वही दवा है जिससे, बीमारे-इश्क को मिलता है तुरंत आराम।

मैं भी हुआ करता था वकील इश्क वालों का, कभी नज़रें उससे क्या मिलीं आज खुद कटघरे में हूँ।

लिखने को हर दिन आधा इश्क़ लिखता हूँ, तुम आओगे तभी तो पूरा होगा।

रोग ही रोग हैं जिस ओर नज़र जाती है, फिर भटकता हूँ फ़क़त मौत मुझे भाती है।

“इतनी गहराइयो में जा पहुचा है इश्क़ मेरा, देखना पैमाना भी छोटा पड़ जाएगा तेरा।”

ishq-mohabbat-shayari

“बंद कर दिए हैं हमने तो दरवाजे इश्क के पर कमबख़्त तेरी यादें तो दरारों से ही चली आई।”

ishq-mohabbat-shayari

“जब होना होता है तब होके रहता है, ये इश्क़ है इस पर किसका ज़ोर चलता है।”

ishq-mohabbat-shayari

“खूबसूरत मैं नहीं ये तुम्हारा इश्क़ है, जो नूर बनकर मेरी आँखों से छलकता है।”

ishq-shayari

“क्या हसीन इत्तेफाक था तेरी गली में आने का, किसी काम से आये थे और किसी काम के ना रहे।”

ishq-shayari

“तेरे इश्क़ में हर इम्तिहान दे देंगे हमे है तुमसे मोहब्बत सारी दुनिया से कह देंगे।”

ishq-shayari

“तुझसे ना मिलने की तड़प कुछ ऐसी है कि, जैसे मेरी सांस में सांस ना हो।”

ishq-shayari-in-hindi

ना आह सुनाई दी ना तड़प दिखाई दी, बर्बाद हो गए तेरे इश्क में हम बड़ी खामोशी के साथ।

काश मेरा घर तेरे घर के करीब होता, बात करना ना सही देखना तो नसीब होता।

कत्ल किया था जिसने मेरी मासूम मुहब्बत का वो बा-इज़्ज़त बरी है, और हम इश्क़ करके सारे शहर के गुनहगार हो गये।

एक खूबसूरत सा रिश्ता यूँ, खतम हो गया, हम दोस्ती निभाते रहे और उसे इश्क हो गया।

चलते थे इस जहाँ में कभी सीना तान के हम, ये कम्बख्त इश्क़ क्या हुआ घुटनो पे आ गए हम।

Romantic Ishq Shayari | Shayari on Ishq

इश्क में ऐसी ताकत होती है जिसमें दो लोग एक दूसरे की चाहत में कुछ भी कर गुजर जाने का जज्बा रखते हैं। इसमें कुछ पाने की उम्मीद नहीं होती सिर्फ एक दूसरे का साथ ही उनके लिए काफी होता है। यह वह जज्बात है जो कभी अमीरी गरीबी, ऊंच-नीच, बड़ा छोटा नहीं देखता जो सच में सच्चे दिल से अपने पार्टनर से प्यार करें वह किसी भी समस्या से गुजरने को तैयार रहते हैं।

यह इश्क का रंग ही ऐसा है जिसमें कितनी भी तकलीफ हो तो क्या वह उन तकनीकों को भूलकर बस अपने प्यार को ही याद करते हैं। जो उनके दिल से जुड़ी है और इस दिल से उस दिल तक का सफर में आप यह Romantic Ishq Shayari अपने पार्टनर को शेयर कर अपने दिल के जज्बातों को बयां कर सकते हैं।

इश्क़ की बेहतरीन सूरत हो आप, मेरी ज़िन्दगी की ज़रूरत हो आप।

इश्क का तो पता नहीं पर जो तुमसे है वो किसी और से नहीं।

इश्क़ का रोग कि दोनों से छुपाया न गया, हम थे सौदाई तो कुछ वो भी दिवाने निकले।

हुस्न की मल्लिका हो या साँवली सी सूरत, इश्क अगर रूह से हो तो हर चेहरा कमाल लगता है।

इस कदर ये इश्क़ ऐसी साजिशें रचता है, कि मेरे चेहरे में उसका चेहरा दिखता है।

“इश्क की गहराईयों में खूबसूरत क्या है, एक मैं हूँ एक तुम हो और ज़रुरत क्या है।”

ishq-shayari-in-hindi

“चाहे कितनी भी तकलीफ दे इश्क़, पर सुकून भी इश्क़ से ही आता है।”

ishq-shayari-in-hindi

“मैंने जान बचा के रखी है एक जान के लिए, इतना इश्क़ कैसे हो गया एक अनजान के लिए।”

ishq-shayari-hindi

“इश्क में इसलिए भी धोखा खानें लगें हैं लोग, दिल की जगह जिस्म को चाहनें लगे हैं लोग।”

ishq-shayari-hindi

“थोड़ी जल्दी आया करो मिलने के लिए, हमारा दिल नहीं बना तुमसे दूर रहने के लिए।”

ishq-shayari-hindi

“घटे तो चैन नहीं है बढ़े तो चैन नहीं, हमें लगा है ये क्या रोग कोई पहचाने।”

ishq-mohabbat-shayari

“इश्क़ ने ग़ालिब निकम्मा कर दिया वर्ना हम भी आदमी थे काम के।”

ishq-shayari-urdu

आधे से कुछ ज्यादा है पूरे से कुछ कम, कुछ जिंदगी, कुछ गम, कुछ इश्क, कुछ हम।

जूनून-ए-इश्क, नहीं रास आया हमें, जब भी देखा आइना, अक्स उनका ही नजर आया हमें।

चलते तो हैं वो साथ मेरे पर अदाज देखिए जैसे की इश्क करके वो एहसान कर रहें है।

जितना तुम्हारा दीदार होता है, मुझे तुमसे इश्क़ उतनी बार होता है।

इश्क़ कमीना नहीं होता है, बस कभी-कभी कमीने लोगो से हो जाता है।

Ishq ki Shayar | Mohabbat Ishq Shayari | Ishq Wali Shayari

इश्क में किसी भी तरह का स्वार्थ नहीं होता है यह निस्वार्थ भाव से होता है। इसमें कोई चालाकी की जगह नहीं होती। यह दो दिलों का मेल है जहां दिल तो दो होते हैं लेकिन धड़कन एक हो जाती है। इसीलिए तो हम Ishq Shayari द्वारा आपको यह बताना चाहते है की अगर आपके साथ ऐसा हो जब आप किसी को बहुत पसंद करने लगे और उसकी बुराई किसी के भी मुंह से सुनकर आपको बुरा लगे, उसकी खुशी में खुश होने लगे, उसके दुख में दुखी होने लेंगे, हर घड़ी सोते जागते, उठते बैठते, खाते पीते बस उसी का ख्याल दिलों दिमाग में आए। उस शख्स के बारे में सोचना आपको अच्छा लगने लगे खुद से ज्यादा उस इंसान की परवाह करने लेंगे है तो समझ लीजिएगा कि आप इश्क में पड़ चुके हैं।

तेरी याद आई इस कदर आई, दिल को सुकून ना मिल पाया, फिर जब सोचा तेरी बेवफाई को, तब दिल सराब में उतर आया।

इश्क़ का रोग लगा है कई बरसों से मुझे, किस लिए मुझ को ये फिर दुनिया दवा देती है।

हम इस कदर तुम पर मर मिटेंगे तुम जहाँ भी देखोगे, केवल हम ही दिखेंगे।

मेरे इश्क़ से मिली है तेरे हुस्न को ये शौहरत, तेरा ज़िक्र ही कहाँ था मेरी दीवानगी से पहले।

क्या फर्क पड़ता है सूरज निकले या ना निकले, मेरा सवेरा तो तेरे चेहरे की रौनक से है।

“मौसम-ऐ-इश्क़ है ये, ज़रा खुश्क हो जाएगा ना उलझा करो हमसे वरना इश्क़ हो जाएगा।”

ishq-shayari

“करूँगा क्या जो मोहब्बत में हो गया नाकाम, मुझे तो और कोई काम भी नहीं आता।”

ishq-shayari

“शायरी उसी के लबों पर सजती है साहिब जिसकी आँखों में इश्क़ रोता हो।”

ishq-shayari

“बहुत शौक था हमे भी दिल लगाने का, शौक शौक में ज़िन्दगी बर्बाद कर बैठे।”

ishq-shayari

“रोग ऐसे भी ग़म-ए-यार से लग जाते हैं, दर से उठते हैं तो दीवार से लग जाते हैं।”

ishq-shayari

“इश्क ने हमसे कुछ ऐसी साजिशें रची हैं, मुझमें मैं नहीं हूँ अब बस तू ही तू बसी है।”

ishq-shayari

“सितारों से आगे जहाँ और भी हैं, अभी इश्क़ के इम्तिहाँ और भी हैं।”

ishq-shayari

तकिये के नीचे दबा के रखे हैँ तुम्हारे ख्याल, एक तेरा अक्स, एक तेरा इश्क़, ढेरो सवाल और तेरा इंतज़ार।

लगता है इश्क़ अपने उसूलों पे कायम ही रहेगा, ये कल भी तकलीफ देता था और आगे भी तकलीफ देगा।

लोग कहते हैं कि इश्क इतना मत करो, कि हुस्न सर पर सवार हो जाये, हम कहते हैं कि इश्क इतना करो, कि पत्थर दिल को भी तुमसे प्यार हो जाये।

प्यार तो प्यार है इसमें तकरार क्या, इश्क तो दिल की अमानत है इससे इंकार क्या, मैं तो दिन रात तड़पता हूँ तेरी याद में, तू भी है मेरे इश्क में बेकरार क्या?

इश्क के दामन से लिपटा गम ही होता है, तन्हाई की आंच से प्रीत कम नहीं होता है, खुदा भी अफ़सोस करता है आसमान पर, जब भी जमीन पर कभी आशिक रोता है।

बहती हुई आँखों की रवानी में मरे हैं, कुछ ख्वाब मेरे ऐन जवानी में मरे हैं, इस इश्क ने आखिर हमें बरबाद किया है, हम लोग इसी खौलते पानी में मरे हैं, कब्रों में नहीं हमको किताबों में उतारो, हम लोग मोहब्बत की कहानी में मरे हैं।

Final Thought About Ishq Shayari

दोस्तों इस आर्टिकल इश्क शायरी के द्वारा हम आपको यह बताना चाहते हैं कि प्यार जोर-जबर्दस्ती या झूठ के बल बुते पर नहीं होता। अगर आपको सच में किसी दिन किसी से सच्चे दिल से इश्क हो जाये तब आपके दिल को खुद ब खुद यह एहसास हो जाएगा कि आपको इश्क हो गया है। लेकिन फिर भी आपको कुछ समझ में ना आए कि आपको इश्क हो गया है तो हमारे इस आर्टिकल Romantic Ishq Shayari को जरूर पढ़िए यह आपकी पूरी मदद करेगा आपके प्यार को पहचानने में, उस प्यार का एहसास कराने में कि आपको सच में किसी से इश्क हो गया और आप अपना दिल खो बैठे हैं।

दोस्तो, आशा करते है कि हमारे द्वारा दिये गए Ishq Shayari in Hindi आप सभी को खूब पसंद आये होंगे। यहाँ पर दिए गए सभी Ishq Mohabbat Shayari हम ख़ासतौर पर आपके लिए चुन कर लाये है।

आपलोगों को हमारा ये Ishq Shayari कैसा लगा जरुर Comment कर के हमें बताइयेगा और कृपया आप अपने FacebookWhatsApp और Other Social Media Platforms पर शेयर करना ना भूले।

इन्हे भी पढ़ें:-

Previous article[101+ Latest] Matlabi Shayari – मतलबी शायरी | Matlabi Log Shayari
Next article[UNIQUE] Truth of Life Quotes in Hindi – ट्रुथ ऑफ़ लाइफ कोट्स इन हिंदी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here